देश

गर्मी में लगती है वाहनों में सबसे ज्यादा आग! रखें इन बातों का ख्याल

नई दिल्ली। गर्मियों का मौसम शुरू होते ही गाड़ियों में आग लगने का सिलसिला भी शुरू हो जाता है। कारों में आग लगने की घटनाएं कोई नई बात नहीं है, अक्सर सुनने और देखने में आता है कि किसी की कार में आग लग गई। कार में आग लगने के सबसे ज्यादा मामले गर्मी के मौसम में ही आते हैं। अब सवाल उठता है कि आखिर गर्मी के मौसम में टू-व्हीलर और फोर-व्हीलर वाहन में क्यों आग लगती है। इसके बारे में हम आपको यहां विस्तार से बता रहे हैं। साथ ही आपको गर्मी में अपकी गाड़ी में आग न लगे इसके बचाव का तरीका भी बताएंगे।

इन वजहों से लगती है आग

आजकल कार बाजार में नई-नई कार एक्सेसरीज़ आ रही हैं। ओरिजिनल के साथ सस्ती और नकली कार एक्सेसरीज़ खूब बिक रही हैं, लोग पैसा बचाने चक्कर में नकली सस्ती एक्सेसरीज़ को अपनी कार में अप्रशिक्षित मेकैनिक से फिट करवा लेते हैं। कई बार गलत वायरिंग से कार में शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग जाती है। वहीं कई बार बैटरी का टेम्परेचर बढ़ने की वजह से आग लगती है। दूसरी ओर पेट्रोल और डीजल गाड़ियों में भी गर्मी के मौसम में आग लग रही है, इसके पीछे कई वजह हैं, जिनके बारे में यहां बता रहे हैं।

बैटरी पर लोड़ बढ़ने सेअक्सर कार मालिक गाड़ी में ज्यादा पावर का म्यूजिक प्लेयर लगवा देते हैं। साथ ही कई लोग गाड़ी में एक्स्ट्रा लाइट यूज करते हैं। जिस वजह से गाड़ी की बैटरी पर लोड़ बढ़ जाता है और इस वजह से शॉर्ट सर्किट होते है और गाड़ी में आग लग जाती है।

आग से बचाव के लिए ये बातें जरूरी

गाड़ी की समय से सर्विसिंग करवाना, समय-समय पर गाड़ी की वायरिंग चेक करवाना, एलपीजी गैस से चलने वाली गाड़ियों की विशेष रुप से सर्विस का ख्याल रखना चाहिए। अगर कड़ी धूप में गाड़ी खड़ी कर रहे हैं तो गाड़ी के कांच को हल्का सा खोल देना चाहिए. ताकि हवा का सरकुलेशन बना रहे। गाड़ियां चलाते समय भी मीटर पर गाड़ियों के टेंपरेचर को देखा जा सकता है। इन सभी बातों का ख्याल रखकर हम अपनी गाड़ियों को सुरक्षित रख सकते हैं।

वायरिंग में कट लगने की वजह से: गाड़ी में आगे-पीछे की लाइट को इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई करने के लिए कई वायर यूज किए जाते हैं। इन वायर में कई बार कट लगने की वजह से शॉर्ट सर्किट हो जाता है। जो आग लगने की एक बड़ी वजह होती है।

पेट्रोल-डीजल टैंक में लीकेज: पेट्रोल और डीजल टैंक में कई बार लीकेज हो जाती है, जिस वजह से गाड़ी में पेट्रोल और डीजल का रिसाव होता है और गर्मी के मौसम में इनमें जल्दी आग लग जाती है। इस वजह से गाड़ी में पेट्रोल-डीजल के लीकेज को समय-समय पर चेक करते रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}