रायपुर

BJP में शामिल हुए चंद्रशेखर शुक्ला का बड़ा बयान..लगाये गंभीर आरोप, बोले- भूपेश बघेल गोबर चोर है, इंडिया गठबंधन के नेता ने चारा खाया था, लेकिन यहां के नेता ने गोबर खाया है..

कवर्धा। पूर्व प्रदेश कांग्रेस प्रभारी महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला आज भाजपा में शामिल हो गए हैं। कवर्धा में आयोजित सभा में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव और मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की मौजूदगी में उन्होंने BJP की सदस्यता ली। इस दौरान उन्होंने भाजपा के मंच से अपना संबोधन दिया। उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन के नेता ने तो चारा खाया था, लेकिन यहां के नेता ने गोबर खाया है। भूपेश बघेल गोबर चोर है, ऐसे गोबर चोर के साथ उन्हें रहने में काफी दिक्कत थी, इसलिए उन्होने पार्टी छोड़ दी है।

आपको बता दें कि चंद्रशेखर शुक्ला ने पिछले दिनों ही गंभीर आरोप लगाते हुए कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। चंद्रशेखर शुक्ला ने पिछले दिनों पत्र लिखकर पार्टी के शीर्ष नेताओं पर निशाना साधा था। चंद्रशेखर शुक्ला से तीन दिन के भीतर पार्टी ने कारण बताओ नोटिस का जवाब मांगा है। चंद्रशेखर शुक्ला ने अपने पत्र में लिखा कि, नेता प्रतिपक्ष चयन की औपचारिकता भी पूरी कर ली गई. दिल्ली के नेताओं के लिए छत्तीसगढ़ पर्यटन का हब और मौज मस्ती का केंद्र बन गया है। हार के बाद कांग्रेस प्रदेश महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला ने प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा और प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज को पत्र लिखकर कहा कि, जो हार के कारणों के लिए जिम्मेदार था उन्हीं के साथ चुपचाप मीटिंग कर ली गई. नेता प्रतिपक्ष चयन की औपचारिकता भी पूरी कर ली गई।

दिल्ली के नेताओं के लिए छत्तीसगढ़ पर्यटन का हब और मौज मस्ती का केंद्र बन गया है. एक एक प्रकोष्ठ में चार चार अध्यक्ष बनाए गए हैं. पैसे लेकर नियुक्तियां की गई है. जोगी कांग्रेस के लोगों को उपकृत किया गया. इतना ही नहीं उन्होंने भूपेश बघेल सरकार की योजनाओं पर भी सवाल खड़े किए। आगे उन्होंने कहा- हमारी योजनाएं और प्लानिंग क्यों धरासी हुई ? हमारे सर्वे जो 7-7 बार हुआ, वह क्यों असफल हुआ ? नेताओं को क्षेत्र बदलकर, (महंत राम सुन्दर दास जी एवं छाया वर्मा जी) क्यों चुनाव लड़वाया गया ?ब्लॉक एवं जिला कांग्रेस कमेटी से आए नामों पर, क्यों नहीं टिकिट बांटा गया ?दुख के साथ लिखना पड़ रहा है कि दिल्ली के नेताओं का छत्तीसगढ़ राजनीतिक पर्यटन हब, मौज-मस्ती का केन्द्र बन गया है. एक-एक प्रकोष्ठ में 4-4 प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए. L.D.M. रूपी के तमाशा किया गया. पैसे लेकर नियुक्तियां की गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}