रायपुर

कलयुगी माँ : बहन ने मोबाईल नहीं दिया तो अपने दुधमुहे बच्चे को जमीन में पटक कर मार डाला, PM रिपोर्ट में हुआ मर्डर का खुलासा

रायगढ़। आज इस आधुनिक दुनिया में घटते भरोसे की वजह से रिश्तों को हर बार कसौटी पर कस कर देखा जा रहा है। लोग अपने खून के रिश्तों पर भी भरोसा नहीं कर रहे है। बेलगाम बढ़ती इच्छाओं और घटती संवेदनशीलता आदमी को अपराध की तरफ धकेलने लगी है। कुछ ऐसा ही छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में भी देखा गया है। जहां ममता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां मोबाईल न मिलने पर एक माँ ने अपने 4 महीने के दुधमुहे बच्चे को जमीन पर पटक कर उसकी हत्या कर दी। इसके साथ ही महिला ने अपने अपराध को छुपाने पुलिस में झूठी रिपोर्ट भी दर्ज करवाई। लेकिन बच्चे की पीएम रिपोर्ट ने इस हत्यारी माँ की पोल खोल दी जिसके बाद पुलिस ने महिला और उसकी बहन दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। यह पूरा मामला रायगढ़ जिले के लैलूंगा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम सराईमुडा का है।

झूठी रिपोर्ट कराई गई दर्ज

बता दें कि, इस घटना को लेकर नवजात की दादी समारी पैकरा ने 16 जनवरी को थाना लैलूंगा में रिपोर्ट दर्ज कराई कि बच्चे की मां पूजा पैंकरा सुबह रोड के ढलान पर बच्चे को धूप दिखा रही थी। उसी समय पूजा को अचानक चक्कर आने से दोनों मां बेटा ढलान पर से गिर गये जिससे शिशु आयुष (04 माह) को चोट आई थी। बच्चे को एंबुलेंस से शासकीय अस्पताल लैलूंगा में भर्ती किए जहां इलाज दौरान शिशु की मृत्यु हो गई।इस मामले में रिपोर्ट दर्ज करने के बाद जब बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया तब उसकी रिपोर्ट में बच्चे के सर पर किसी भारी चीज से चोट लगने की बात सामने आई।जिसके बाद मामला संदिग्ध पाए जाने से थाना प्रभारी राजेश जांगडे द्वारा मृतक के परिजनों से कड़ाई से पूछताछ की जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हो गया।

मोबाईल बनी हत्या की वजह

जानकारी के अनुसार 16 जनवरी की सुबह मृतक की मां पूजा पैंकरा से उसकी बड़ी बहन संतोषी पैंकरा मोबाइल मांग रही थी। लेकिन जब बड़ी बहन ने उसे मोबाईल नहीं दिया तब दोनों में झगड़ा शुरू हो गया। इसी झगड़ा विवाद के बीच गुस्से में आकर पूजा पैंकरा अपने चार महीने के शिशु आयुष को जमीन में पटक दी जिससे सिर में आई गंभीर चोट से शिशु की मृत्यु हो गया।

घटना को छुपाने का प्रयास

अपराध को छिपाने घरवालों ने शिशु के उसकी मां के हाथ से गिर जाने से सिर में आई चोट की झूठी और मनगढ़ंत रिपोर्ट दर्ज कराया गया था। पीएम रिपोर्ट में शिशु के सिर पर आई चोट किसी भारी ठोस वस्तु से प्रहार करने या टकराने की वजह से हिंसात्मक व्यवहार लेख किया गया है।

दोनों महिलाएं जेल दाखिल

लैलूंगा पुलिस हत्या के इस मामले में महत्वपूर्ण साक्ष्यों की जप्ती कर आरोपिया पूजा पैकरा पति अरविंद पैकरा उम्र 21 साल तथा उसकी बड़ी बहन संतोषी पैकरा पिता कमल सिंह पर उम्र 32 साल निवासी सराईमुडा थाना लैलूंगा जिला रायगढ़ को हत्या के अपराध में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}