रायपुर

कांग्रेस में कार्यकर्ताओं और नेताओं की कमी, मुर्दों को दे रहे लोकसभा चुनाव की जिम्मेदारी : केदार कश्यप

जगदलपुर। लोकसभा चुनाव को लेकर बस्तर संभाग में भाजपा जोरशोर से प्रचार प्रसार में लगी है। कार्यकर्ता सम्मेलन के माध्यम से बीजेपी जन-जन तक पहुंचने में लगी हुई है।
वनमंत्री केदार कश्यप ने भानुप्रतापुर, अंतागढ़ के पखांजूर,दंतेवाड़ा, नारायणपुर, कोंटा, चित्रकूट,सिहावा,केशकाल,बस्तर सहित दुर्गूकोंदल में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

बस्तर विधानसभा के बकावंड में वनमंत्री केदार कश्यप ने शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री बघेल और कांग्रेस पार्टी पर पर जमकर बरसे उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों में कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ को बर्बाद करने का कार्य किया। आदिवासियों के नाम पर छत्तीसगढ़ की जनजाति समाज को ठगने का काम पूर्ववर्ती ठगेस सरकार ने किया।

मोदी की गारंटी पूरी, चरणपादुका सहित कई योजना शुरू

वनमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में आदिवासियों के हित में काम केवल भाजपा शासन में हुआ। पिछले शासन काल में न तेंदूपत्ता खरीदा जा रहा था, न ही संग्राहकों को शासन के योजनाओं का लाभ मिल रहा था। आदिवासी समाज ने बघेल सरकार के अन्याय को 5 साल तक झेला है। लेकिन विधानसभा चुनाव में आदिवासी समाज ने कांग्रेस को उखाड़ कर फेंक दिया और प्रदेश में विष्णुदेव साय सरकार को स्थापित किया।

विष्णुदेव साय सरकार में मोदी की गारंटी पूरी हुई है। सरकार बनते ही पहली कैबिनेट में 18 लाख प्रधानमंत्री आवास देने का निर्णय लेकर बजट प्रावधान किया गया। महतारी वंदन योजना को शुरू कर दिया गया है। कृषक उन्नति योजना के तहत किसानों को बोनस और अंतर की राशि एक मुश्त प्रदान की गई। कहने का मतलब यही है कि छत्तीसगढ़ हो या भारत एक विजन और विकास के लक्ष्य को लेकर भाजपा कार्य करती है।

स्लीपर सेल कहे जाने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रति मेरी संवेदना

वनमंत्री केदार कश्यप ने कांग्रेस पार्टी पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी मृत अवस्था में पहुंच चुकी है। इनके पास चुनाव लड़ाने के लिए नेता नहीं हैं, लेकिन अब जिस प्रकार से राजनांदगांव में मृत आत्माओं को लोकसभा चुनाव की जिम्मेदारी दी गई, इससे प्रतीत हो रहा है कि अब इस कांग्रेस पार्टी के पास झंडा उठाने वाले कार्यकर्ता नही हैं।

राजनांदगांव से भूपेश बघेल भगाए जा रहे हैं

मंत्री कश्यप ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के लोग अमेठी को अपना पैतृक सीट बताते थे। एक समय कहते थे गांधी परिवार के नाम कुत्ता भी चुनाव लड़ ले तो कुत्ता भी चुनाव जीत जाए। लेकिन कांग्रेस के आलाकमान राहुल गांधी पैतृक सीट से चुनाव लड़ने के बजाय सीट छोड़कर पलायन कर जाते हैं।

वहीं कांग्रेस पार्टी ने राजनांदगांव में जिन्हें लोकसभा प्रत्याशी बनाया है उसका जमकर विरोध किया जा रहा है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री बघेल बीतें 5 वर्षों में कभी राजनांदगांव नहीं आये। वहीं, कांग्रेस पार्टी के नेता पत्र लिखकर हाईकमान से बघेल की सीट बदलने की मांग कर रहे हैं।

बीजेपी के कार्यकर्ता देवतुल्य और कांग्रेस के स्लीपर सेल

वनमंत्री केदार कश्यप ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री बघेल अपने कार्यकर्ताओं को स्लीपर सेल की तरह कार्य करने वाले आतंकवादी का दर्जा देते हैं। भूपेश बघेल अहंकार में डूबे हुए हैं। इसलिए अपने कार्यकर्ताओं को आतंकवादी बता रहे जबकि भाजपा का एक एक कार्यकर्ता हमारे परिवार का सदस्य है। हमारे कार्यकर्ता देवतुल्य हैं।

देवतुल्य कार्यकर्ताओं के संकल्प के आगे कांग्रेस के स्लीपर सेल नहीं टिकने वाले। हमारे कार्यकर्ता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल के लिए घर-घर जाने का कार्य शुरू कर दिया है। योजनाओं और राष्ट्र निर्माण के नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य हमारे देव तुल्य कार्यकर्ता कर रहे हैं।

मंत्री केदार ने कहा कि 2024 में फिर प्रधानमंत्री मोदी की सरकार बनेगी, भारत विश्वगुरु बनने के मार्ग में प्रशस्त होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}