रायपुर

बृजमोहन को एक ही आदमी हरा सकता है…. वरिष्ठ पत्रकार जवाहर नागदेव की खरी… खरी…

शोले बनाम बृजमोहन…


सातवीं कक्षा में थे 1977 मे, तब फिल्म इण्डस्ट्री में एक मील का पत्थर देखा था। जिसमें इस सदी का मील का पत्थर अमिताभ बच्चन था, दूसरा इंसानियत से लवरेज बेहतरीन कलाकार हीमेन धर्मेन्द्र और युवाओं की ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी थी।
यह एक फिल्म थी, नाम था शोले। शोले फिल्म ने तब जो झण्डे गाड़े थे वे अभी तक लहरा रहे हैं। न भूतो न भविष्यति। जितनी लोकप्रिय शोले फिल्म रही है उतनी कोई अन्य नहीं रही।
और यही बात रायपुर लोकसभा सेे भाजपा के प्रत्याशी बृजमोहन अग्रवाल के बारे में कही जा सकती है। छत्तीसगढ़ मे जितने लोकप्रिय बृजमोहन अग्रवाल हैं उतना कोई नेता नहीं।
चुनाव चाहे जो भी हो जिस प्रत्याशी को बृजमोहन ने जिताना चाहा वो कभी हारा नहीं और जिसे हराना चाहे वो कभी जीता नहीं, चाहे वो किसी भी दल का हो। आज की डेट मे ये बात कोई झुठला नहीं सकता।

बृजमोहन को एक ही आदमी हरा सकता है….

मोहन भैया के नाम से प्रसिद्ध बृजमोहन अग्रवाल की तुलना आज के हालात् में शोले से की जा सकती है तो एक डायलाॅग भी शोले का उन पर लागू होता है। फिल्म के सबसे लोकप्रिय किरदार का एक डायलाॅग था ‘गब्बर को सिर्फ एक ही आदमी हरा सकता है खुद गब्बर’,
आज ये डायलाॅग बृजमोहन अग्रवाल पर लागू होता है कि ‘आज की तारीख में बृजमोहन को एक ही आदमी हरा सकता है, खुद बृजमोहन……. ’

निस्संदेह मोदीजी रत्ती भर भी रिस्क नहीं लेना चाहते इसलिये एक से एक धुरंधर और सफलता की गैरेन्टी वाले प्रत्याशी चुनावी समर में उतार रहे हैं। छत्तीसगढ़ की 11 की 11 सीटें और देश की कम से कम 370 सीटें उन्हें भाजपा को दिलानी हैं। उनका मंसूबा सहयोगी दलों की मिलाकर कुल 400 सीटों के साथ सरकार बनाने का है।
अबकी बार चार सौ पार उनका दावा है। उनका दावा उनके आत्मविश्वास का परिचायक है। पहले 1998 विधानसभा चुनाव में जब कांग्रेस ने भाजपा को बुरी तरह पटकनी दे दी थी तब इस बुरी हार के बावजूद 1999 के लोकसभा चुनाव में जनता ने भाजपा को ग्यारह में से नौं सीटें दे दी थीं।
इस बार 2023 विधानसभा चुनाव में तो जनता ने भाजपा को शानदीर जीत प्रदान की है तो भाजपा का मनोबल सहज की बढ़ा हुआ है। यदि 11 में से 11 भाजपा को मिल जाती हैं तो ये कोई आश्चर्यजनक बात नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}