रायपुर

ब्राम्हण समाज का बिलासपुर साइंस कालेज मैदान में विशाल समागम,पूरे प्रदेश भर से लोग पहुंचे

समाज को मिले दो एकड़ जमीन पर बहुउद्देशीय परिसर का मुख्यमंत्री बघेल करेंगे भूमिपूजन

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ ब्राम्हण समाज का विशाल समागम रविवार को बिलासपुर के साइंस कालेज मैदान में शुरू हो गया है। इस समागम में प्रदेशभर से बड़ी संख्या में समाज के लोगों की मौजूदगी देखी जा रही है।  इस अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे के अलावा और भी अतिथि रहेंगे। मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा,समाज के अध्यक्ष डा.प्रदीप शुक्ला,प्रमोद दुबे,ज्ञानेश शर्मा ने संयुक्त रूप से इस आयोजन की कमान संभाल रखी है।माज के अध्यक्ष डा प्रदीप शुक्ला और कार्यकारी अध्यक्ष संजय शर्मा ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समाज को दो एकड़ भूमि उपलब्ध कराई है। समाज ने इस भूमि को बहुउद्देशीय परिसर के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया है। इस भवन में एक मुख्य भवन रहेगा जो 22 हजार वर्ग फिट में बनेगा और दूसरा भवन रहेगा जो सात हजार वर्ग फिट का रहेगा। बाद में आवश्यकात के अनुसार इसे विस्तारित किया जायेगा।

रविवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे और गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष रामसुंदर दास अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा, योग आयोग के अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा, रायपुर नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे, जैव विविधता बोर्ड के अध्यक्ष राकेश चतुर्वेदी और कृषक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सुरेंद्र शर्मा विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हो रहे हैं।

कार्यक्रम साइंस कालेज मैदान में शाम के पांच बजे तक चलेगा। कार्यक्रम में भूमिपूजन के अलावा छत्तीसगढ़ में रहने वाले सभी समाजों को एकजुट रखने के लिए विचार मंथन भी किया जाएगा। इस आयोजन में बिलासपुर, रायपुर, दुर्ग, भिलाई, राजनांदगांव, जांजगीर, चांपा, कोरबा, रायगढ़, सारंगढ़, अंबिकापुर, सरगुजा, जगदलपुर समेत पूरे छत्तीसगढ़ से समाज के लोग एकत्रित हो रहे है।गौरतलब है कि भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समाज के प्रतिनिधि से मुलाकात की थी। इस दौरान ब्राम्हण समाज की मांग पर पीछले दिनों मुख्यमंत्री ने डीएलएस कालेज के पास समाज को दो एकड़ जमीन उपलब्ध कराई है। भूमि आवंटन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सलाहकार प्रदीप शर्मा की विशेष भूमिका रही है। अब इस जमीन को बहुउद्देशीय परिसर के रूप विकसित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}