हेल्थ

Hair Tips : आप आए भिंडी और एलोवेरा से पाए सिल्की बाल, जाने कैसे करें अप्लाई…

बालों के रूखे और बेजान दिखने के पीछे कई कारण होते हैं, जिनमें सबसे अहम है देखभाल की कमी। वैसे बढ़ते प्रदूषण और गंदगी के कारण भी बाल हल्के दिखने लगते हैं। साथ ही धीरे-धीरे उनकी चमक भी खत्म होने लगती है।

बाजार में मिलने वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी बालों को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि इनमें केमिकल प्रोडक्ट्स मौजूद होते हैं। वैसे तो घरेलू नुस्खों से बालों को चमकदार और स्वस्थ बनाया जा सकता है। इनकी खासियत यह है कि ये जल्दी हानिकारक साबित नहीं होते।क्या आप जानते हैं कि आप मादा उंगली से भी चमकदार, रेशमी या सीधे बाल पा सकते हैं? आइए हम आपको बताते हैं कि कैसे आप भिंडी और एलोवेरा के घरेलू नुस्खे से अपने बालों में जान डाल सकते हैं।

असरदार भिंडी और एलोवेरा रेसिपी

बहुत कम लोग जानते हैं कि भिंडी से बालों की देखभाल भी की जा सकती है। वहीं, एलोवेरा न सिर्फ बालों के लिए बल्कि त्वचा और सेहत के लिए भी फायदेमंद है। भिंडी और एलोवेरा को अपने बालों में लगाने के लिए एक कटोरे में पानी गर्म करें। – धुले हुए भिन्डी के टुकड़े डालें और उबाल आने दें. तब तक गर्म करें जब तक लड़की की उंगली का पानी लार में न बदल जाए। इसके बाद एलोवेरा जेल को छानकर भिंडी के पेस्ट में मिला लें. इस पेस्ट को अपने बालों पर केवल उन्हीं दिनों लगाएं जब आप उन्हें धो रहे हों और इसे केवल 15 मिनट तक लगा रहने दें।

बालों के लिए भिंडी और एलोवेरा के फायदे

इस घरेलू उपाय का फायदा यह है कि यह आपके बालों को रेशमी और चमकदार बनाता है। अपने बालों को हीटिंग टूल से सीधा करने के बजाय, आप अपने बालों को प्राकृतिक रूप से सीधा कर सकते हैं।भिंडी में पोषक तत्व तो मौजूद होते हैं लेकिन एलोवेरा की मौजूदगी के कारण यह नुस्खा बालों को दोगुना फायदा पहुंचा सकता है। इसे लगाने से बालों को पोषण मिलता है और वे स्वस्थ हो सकते हैं।बालों में डैंड्रफ और एलोवेरा लगाने से भी सिर पर मौजूद डैंड्रफ की समस्या खत्म हो जाती है। साथ ही यह नुस्खा आपके बालों में नमी भी बरकरार रख सकता है. गर्मियों में बालों को नमीयुक्त रखने के लिए एलोवेरा सबसे अच्छा है। इस तरह एलोवेरा का इस्तेमाल करके आप अपने बालों में नई जान फूंक सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}